छिपाना
Fertilisers उर्वरक Pesticides कीटनाशक बीज Plant growth promoters पौध विकास प्रोत्साहक

Product was successfully added to your shopping cart.

सागरिका / Sagarika (1 Litre)

Quick Overview

सागरिका एक समुद्री उत्पाद हैं जो फसल की उत्पादकता को बढ़ाता हैं।


जिसे दक्षिण-पूर्वी भारत के तटों पर समुद्री जल में उगने वाले लाल- भूरे रंग के समुद्री खरपतवार (कप्पेफाइकस अल्वारेज़ी) से प्राप्त किया जाता हैं।


सागरिका एक जैविक उत्पाद है जो पौध वृद्धि प्रोत्साहक है। संघटक: कुल घुलनशील पदार्थों में 28% समुद्री शैवाल का रस (लाल और भूरे रंग के शैवाल), प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, अकार्बनिक लवण , विटामिन और अन्य पोषक तत्व उपस्थित होते हैं ।

उपयोगी फसल : यह सभी धान्य फसलों, दलहन, तिलहन, फलों और सब्जियों वाली फसलों, चीनी और फाइबर फसलों, बागान वाली फसलों, औषधीय और सुगंधित फसलों के लिए उपयुक्त है।
उपयोग की विधि : सुबह के समय छिड़काव करें जब ओंस की बुँदे न हो।



  • पहला छिड़काव - पौधों की रोपाई/किल्ले निकलते के समय 

  • दूसरा छिड़काव - फूल आने से पहले

  • तीसरे छिड़काव- फूल आने के बाद


उपयोग मात्रा: फसल की अवस्था के अनुसार 250 मिलीलीटर सागरिका प्रति एकड़ वा 1-2 मिली सागरिका एक लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें 
फायदें :-
1. सागरिका एक सुरक्षित और पर्यावरण-अनुकूल उत्पाद है, इसका कोई फ़ाइटोटोक्सिक प्रभाव नहीं है और यह जीवंत कृषि के लिए उपयुक्त है।
2. सागरिका पाचक वर्द्धि कारक हैं जो फसल की वृद्धि और विकास को बढ़ाता है।
3. सागरिका, फसल की पैदावार को बढ़ाता है एवं पौधों को सम्पूर्ण पोषक तत्व प्रदान करता हैं जिसके परिणामस्वरूप पौधों की बढ़वार ,जड़ एवं तना में वर्द्धि,फल और फूलों आदि में वर्द्धि करता हैं।
4. सागरिका, फसल की शारीरिक दक्षता को बढ़ाता है, जिससे पौधों मिट्टी से अधिक पोषक तत्वों का अवशोषण करता हैं।
5 सागरिका, फसल उत्पाद की गुणवत्ता को बढ़ाता हैं फल का आकर ,वृद्धि ,रंग एवं स्वाद की गुणवत्ता में वर्द्धि करता हैं। 
6. सागरिका, फसल की तनाव प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाता है एवं फसलों में कीड़े एवं बीमारियों के प्रति प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता हैं।


तकनीकी स्रोत :- Central Salt & Marine Chemicals Research Institute (CSMCRI), Bhavnagar.
उत्पादनकर्ता :- Aquagri Processing Private Ltd.

Rs.500.00

(स्टॉक ख़त्म)